Love Shero Shayari in Hindi - Sher O Shayari Love

अरे दोस्तों Love Sher Shayari in Hindi - Sher O Shayari Love में आपका स्वागत है और अब आप शेरो पढ़ सकते हैं.sher o shayari love, sher shayari hindi love, love sher o shayari, love sher shayari, love sher o shayari in hindi, sher shayari love, sher o shayari on love, urdu sher o shayari love, sher aur shayari love, sher shayari urdu love.,हमने Love Sher Shayari in Hindi - Sher O Shayari Love की एक सूची बनाई है जिसे आप अपने दोस्तों के साथ सोशल प्लेटफॉर्म जैसे ट्विटर, इंस्टाग्राम, फेसबुक, व्हाट्सएप पर आसानी से साझा कर सकते हैं।

Love Sher Shayari in Hindi - Sher O Shayari Love



Shero Shayari love 

Sher o Shayari love


कहानियाँ लिखने लगा हूँ अब मैं
शायरियों में अब तुम समाते ही नही


हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूँ आवाज से तेरी
ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है


ना सवाल बन के मिला करो,ना जवाब बन के मिला करो
मेरी जिंदगी मेरा ख्वाब है,मुझे ख्वाब बन के मिला करो


किसी एक से करो प्यार इतना के
किसी और से प्यार करने की गुंजाइश ना रहे
वो मुस्करा दे आप को देख कर एक बार
तो जिंदगी से फिर कोई ख्वाहिश ना रहे


बातें कुछ अनकही सी,कुछ अनसुनी सी, होने लगी
काबू दिल पे रहा ना, हस्ती हमारी खोने लगी


इनकार करते थे वो हमारी मोहबत से
और हमारी ही तसवीर उनकी किताब से निकली


शिकवे भी कर गिले भी कर या फिर चाहे नफरत.
बस आरजू है कि तू यूंही रूबरू होती रहे मुझसे


नादान बहुत है वो , जैसे कुछ समझती ही नहीं ,
सीने से लगकर पूछती है धड़कन इतनी तेज क्यों है


मिल जाएँगे ‘हमारी’ भी तारीफ़ करने वाले,
कोई हमारी ‘मौत’ की अफ़वाह तो फैलाओ यारों


बीच में आ चुके फासलों का एहसास तब हुआ,
जब हमने कहा ‘हम ठीक है और उसने मान भी लिया

sher shayari hindi love


धडकनों की यही तो खास बात है
भरे बाज़ार में भी किसी एक को सुनाई देती है


मौसम को मौसम की बहारों ने लूटा,
हमे कश्ती ने नहीं किनारों ने लूटा,
आप तो डर गये मेरी एक ही कसम से,
आपकी कसम देकर हमें तो हज़ारों ने लूटा


नींद आंखों की उडा ले गया कोई
उसे ख्वाबों में बसाने को जी चाहता है


कैसे करू भरोसा गैरों के प्यार पर
अपने ही मजा लेते हैं अपनों की हार पर


राज तो हमारा हर जगह पे है
पसंद करने वालों के “दिल” में
और नापसंद करने वालों के “दिमाग” में


लफ्ज अल्फाज,कागज,किताब सब बेमानी है.
तुम कहते रहो, हम सुनते रहें इतनी सी कहानी है


सिर्फ इसी कर्ज को अदा करनेँ के वास्ते हम सारी रात नहीँ सोते
कि शायद कोई जाग रहा हो इस दुनिया मेँ हमारे लिए


कहीं फिसल न जाओ जरा संभल के रहना.
मौसम बारिश का भी है और मुहब्बत का भी


मुद्दतों बाद इश्क में मुझसे हिसाब माँगनेवाले सुन
आज भी मेरा दिल तेरे दुपट्टे के किसी कोने में बँधा निकलेगा


ना जाने क्यों कोसते हैं लोग बदसूरती को
बर्बाद करने वाले तो हसीन चेहरे होते हैं


मुझे रिश्तो की, लम्बी कतारों से मतलब नहीं.
कोई दिल से हो मेरा ,तो एक शख्स ही काफी है

love Sher o Shayari

love Sher o Shayari

हमारा दिल तब नही रोता जब हम किसी को खो देते है
बल्कि तब रोता है जब हम खुद को खोकर भी किसी के हो नही पाते


कभी हमसे भी दो पल की मुलाकात कर लिया करो
क्या पता आज हम तरस रहे हैं कल तुम ढुढते फिरो


क्या बात है. सभी बड़े चुप चाप से बैठे हो,
कोई बात दिल पे लगी है या दिल लगा बैठे हो


तुम्हे याद कर लूँ तो मिल जाती है हर दर्द से निजात,
लोग यूं ही हल्ला मचाते हैं की दवाइयाँ महँगी हैं


तुझे गुस्सा दिलाना भी एक साजिश है
तेरा रुठ कर मुझ पर यूँ हक जताना प्यारा सा लगता है


हम तो फना हो गये उसकी आखें देख कर गालिब
ना जाने वो आईना कैसे देखती होगी


तुम न रख सकोंगे मेरा तोहफा संभालकर ,
वरना मैं अभी दे दूँ ,जिस्म सें रुह निकालकर


ये दिल न जाने क्या कर बैठा मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा
इस ज़मीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता और ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा


कमी खल रही है, तेरी बड़ी जोर से
तुम चले आओ की सी भी और से


रिश्ते तोड़ देना हमारी फितरत मे नही
हम तो बदनाम हैं रिश्ते निभाने के लिए


मिलावट है तेरे इश्क में कुछ इत्र और शराब की
तभी तो कुछ महकता हूँ मै, कुछ बहकता हूँ मै


माना की तेरी नज़र में कुछ नहीं हूँ मैं
मेरी कदर उनसे पूछ
जिनको पलट कर नहीं देखा मैंने सिर्फ तेरे लिए

love Sher Shayari


कांच के दिल थे जिनके उनके दिल टूट गए
हमारा दिल था मोम का पिघलता ही चला गया


जितना रूँठना है रूँठ ले पगले
जिस दिन हम रूँठ गए उस दिन तू जीना ही भूल जाएगा


महोब्बत को जब लोग खुदा मानते हैं तो प्यार करने वालो को क्युँ बुरा मानते है
जब जमाना ही पत्थर दिल है.तो फिर पत्थरों से लोग क्युँ दुआ माँगते है


उसने पूछा कौन अक्सर याद आता है तनहाई में
मैंने कहा कुछ पूराने रास्ते ,बचपन और एक लडकी


कभी उदास बेठी हो तो बताना
हम फिर से दिल दे देंगे खेलने के लिए


तेरी तस्वीर बना कर आसमां पर टांग दी
सब पूछते हैं आज चाँद इतना बेदाग़ कैसे है


तमाम नींदे गिरवी हैं उस के पास
ज़रा सी मुहब्बत ली थी जिससे


लेने दे मुझे तू अपने ख़्वाबों की तलाशी
मेरी नींद चोरी हो गयी है,मुझे शक है तुझ पर


वो दुःश्मन बनकर हमें जीतने निकली
अगर मुहोब्बत कर लेती तो हम ऐसे ही हार जाते


चलो तुम आये और तुम्हारा दीदार हो गया
जिंदगी में उलझा था मेरा रविवार हो गया


दिल को काश ये मालूम हो जाता,कि
मोहब्बत उस वक़्त तक दिलचस्प होती है जब तक नहीं होती है


दिल तो करता हैं की रूठ जाऊँ कभी बच्चों की तरह
फिर सोचता हूँ कि मनाएगा कौन


बड़ी बारीकी से पढ़ लेते है वो ख़ामोशी मेरी,
बार बार यू मुझे अपना बनाना उन्हें बखूबी आता है


ना ज़ाहिर हुई तुम से, ना बयान हुई हम से,
बस सुलझी हुई आँखों में उलझी रही मोहब्बत


अब इतना भी सादगी का ज़माना नहीं रहा
क़े तुम वक़्त गुज़ारो और हम प्यार समझें


Love sher o shayari in hindi

Love sher o shayari in hindi


उसे कह दो अपनी ख़ास हिफाज़त किया करे
बेशक साँसें उसकी हैं मगर जान तो वो हमारी है


इश्क ने कब इजाजत ली है आशिक़ों से
वो होता है, और होकर ही रहता है


उसने मुझ से पुछा मेरे बिना रह लोगे
सांस रुक गई और उन्हें लगा हम सोच रहे है


लिख दूं किताबें तेरी इश्क में फिर डर लगता है
कहीं हर कोई तुझे पाने का तलबगार ना हो जाये.


सिर्फ मैं ही हाथ थाम सकूँ उसका मुझ पर इतनी इनायत सी कर दे
वो रह ना पाये इक पल भी मेरे बिना ऐ रब उसको मेरी आदत सी कर दे


उनके दीदार के लिए दिल तड़पता हैउनके इंतज़ार में दिल तरसता है;
क्या कहें इस कमबख्त दिल को अब अपना होकर भी जो किसी और के लिए धड़कता है


अब मैँ समझा तेरे रूखसार पर काले तिल का मतलब
दौलते हुस्न पर दरबान बैठा रखा है


सारे ताबीज गले में पहन कर देख लिए
आराम तो बस तेरे दीदार से ही मिला


सुकून मिल गया मुझको बदनाम होकर,
आपके हर इक इल्ज़ाम पेयूँ बेजुबान होकर
लोग पढ़ ही लेंगें आपकी आँखों में मेरी मोहब्बत,
चाहे कर दो इनकार अंजान होकर


जो कभी फैसला वो साथ चलने का करे
दुआ है खुदा सेमुझे मंज़िल ही ना मिले.


ना जाने वहम क्या है उसे मेरी तरफ से
जो पूछता है हाल-ए-दिल मेरा पलट पलट के


रूह के रिश्तों को किसी कसौटी पर ना कस
कुछ रिश्ते अहसास से गुजर जाया करते हैं


गजल में शेर होता है खास किसी के लिए,
मगर सितम ये है सब को सुनाना पड़ता है


कहा जो उसने मुझसे खामोशी है पसंद
मैने शोर मचाती अपनी धडकने रोक दी


दुआ करते है हम बहुत शिद्दत से आपको हमारी उमर लग जाये
आपकी जिंदगी मे, जब भी अँधेरा आए, तो रोशनी के लिए खुदा हमारी ही रूह जलाए


Sher Shayari Love



वजह पूछोगे तो सारी उम्र गुजर जाएगी
कहा ना अच्छे लगते हो तो,बस लगते हो.


हर लम्हा सौ सवाल
सौ में सिर्फ तेरा ख्याल


आज मौसम कितना खुश गंवार हो गया,
खत्म सभी का इंतज़ार हो गया
बारिश की बूंदे गिरी कुछ इस तरह से
लगा जैसे आसमान को ज़मीन से प्यार हो गया|


लाख गुलाब लगा लो तुम अपने आगँन मे,
खुसबू हमारे आने से ही होगी


तुझे गुस्सा दिलाना भी एक साजिश है
तेरा रुठ कर मुझ पर यूँ हक जताना प्यारा सा लगता है


मुझसे बिछङने के बाद नही आयेगा तुम्हे ऐसी चाहत का मजा
तुम लोगो से कहती फ़िरोगी कि मुझे चाहो तुम उसी की तरह


मरहम नहीं तो हमारे जख्मों पर, नमक ही लगा दो
हम तो तेरे छू लेने से ही, ठीक हो जायेंगे

उसके तेवर समझना भी आसां नहीं
बात औरों की थी, हम निगाहों में थे


धडकनों को कुछ तो काबू में कर ए दिल ,
अभी तो पलकें झुकाई है मुस्कुराना अभी बाकी है उनका


किसी न किसी पे किसी को एतबार हो जाता है
अजनबी कोई शक्स यार हो जाता है
खूबियों से नहीँ होती मोहब्बत सदा
खामीयों से भी अक्सर प्यार हो जाता है


काश तु मेरी आँखोँ का आँसु बन जाये
मेँ रोना छोड़ दुं तुझे खोने के डर स


पता नही ये बादल क्यूँ भटक रहे हैं फ़िज़ा में दर-बदर,
शायद इनसे भी बात नहीं करता, इनका अपना कोई.


यूँ तो कटे हुए उस पेड़ को एक ज़माना हो गया,
मगर ढूँढने अपना ठिकाना, एक परिंदा रोज आता है


मेरे सब्र का ना ले इम्तिहान मेरी खामोशी को सदा ना दे
जो तेरे बगैर ना जी सके उसे जीने की तू दुआ ना दे


खामोश हूँ सिर्फ़ तुम्हारी खुशी के लिये
ये न सोंचना कि मेरा दिल दुःखता नहीं

sher o shayari on love


sher o shayari on love


वो मिली भी तो सिर्फ़ खुदा के दरबार में,
अब तुम ही बताओ यारों हम इबादत करते या मोहब्बत


मैं हँस के चल दुँ उनके बिछाये काँच के टुकडो पर
अगर वो कह दे, ये फूल मैने आपके लिय बिछाये है


क्या मज़ा इश्क में इलाही है अब फ़कीरी में बादशाही है
एक तरफ तो सुबूत है पक्के इक तरफ मेरी बेगुनाही है


आज कुछ और नहीं बस इतना सुनो
मौसम हसीन है लेकिन तुम जैसा नहीं


दिल है उदास बहुत कोई पैगाम ही लिख दो
तुम अपना नाम ना सही गुमनाम ही लिख दो


उसने पूछा कि कौनसा तोहफा है मनपसंद
मैंने कहा वो शाम जो अब तक उधार है


तू रुठी रुठी सी लगती है, कोइ तरकीब बता मनाने की
मै जिंदगी भी गिरवी रख दूंगा , तू किंमत बता मुस्कुराने की


मत पूँछ मेरे जागने की वजह ऐ-चाँद
तेरा ही हम शकल है वो,जो मुझे सोने नही देता

यूँ तो शिकायते तुझ से सैंकड़ों हैं मगर
तेरी एक मुस्कान ही काफी है सुलह के लिये


हम दोनों ही डरते थे एक दुसरे से बात करने में
मुझे इश्क था इसलिए और उसे इश्क ना हो जाए इसलिए


प्यार किया तो उनकी मोहबत नज़र आई,
दर्द हुआ हमे तो पलके उनकी भर आई.
दो दिलों की धड़कन में एक बात नज़र आई,
दिल तो उनका धड़का पर आवाज़ इस दिल से आई.

urdu sher o shayari love


अल्फ़ाज़ों में वो दम कहाँ जो बयां करे शख़्सियत हमारी
रूबरू होना है तो आगोश में आना होगा


कमाल की फनकारी है उस में
वार भी दिल पे और राज भी दिल पे


नामुमकिन है इसको समझना
दिल का अपना ही दिमाग़ होता है


दिल की कीमत तो,मुहब्बत के सिवा कुछ भी ना थी
जो भी मिले सूरत के खरीदार मिले


वो भी आधी रात को निकलता है और मैं भी ,
फिर क्यों उसे चाँद और मुझे आवारा कहते हैं लोग


आज सुबह सुबह मौत बड़े गुस्से में आके मुझसे बोली की मैं तेरी जान ले लूँगी
मैंने भी कह दिया की जिस्म लेना है तो ले ले जान तो कोई और ले गया है


वो इतना रोई मेरी मौत पर मुझे जगाने के लिये
मै मरता ही क्यूँ अगर वो थोडा रो देती मुझे पाने के लिये


मुझे रूह तक भिगो देती हैं
तेरी बातें भी सावन जैसी हैं


कायम है अभी दुनिया में रिश्वतों के सिलसिले
तुम भी कुछ ले दे कर हमसे मोहब्बत कर लो


तुझे गर मिलें कभी फुर्सतें मेरी शाम फिर से संवार दे
गर कत्ल करना है तो कत्ल कर मगर यूँ जुदाईयों की सजा ना दे

 sher aur shayari love

 sher aur shayari love


मैं तो एक मुद्दत से चुप था तूने ही उजालो से वाकिफ़ करदिया
बड़ी शिद्दत से भेजा था गुलाब तुझको के खुशबु ने पुरे शहर में तमाशा बना दिया


दिल टूटा है तो अपनी ही गलती से,
उसने कब कहा था कि तू मोहब्बत कर


कहीं फिसल ना जाओ ज़रा संभल के रहना,
मौसम बारिश का भी है और मुहब्बत का भी


ना आना लेकर उसे मेरे जनाजे में मेरी मोहब्बत की तौहीन होगी
मैं चार लोगो के कंधे पर हूंगा,और मेरी जान पैदल होगी


अब इश्क भी करो तो ज़ात पूछकर करना
मज़हबी झगड़ो में मोहब्बत हार जाती है


लोग पूछते हैं की तुम क्यूँ अपनी मोहब्बत, का इज़हार नहीं करते,
हमने कहा जो लब्जों में बयां, हो जाये सिर्फ उतना हम किसी से प्यार नहीं करते.


ऐ खुदा मुसीबत मैं डाल दे मुझे
किसी ने बुरे वक़्त मैं आने का वादा किया है.


तू हँसती है मुझे हँसाने के लिए, तू रोती है मुझे रुलाने के लिए
एक बार तू रुठ कर तो देख, मर भी जाऊंगा तुझे मनाने के लिए


टकरा जाता हूँ अक्सर मैं तेरे साये से
तुम दिखते जब नही हो, तो महसूस क्यों होते हो मुझे


उसने मेरा हाथ थामा था उस पार जाने के लिए
और मेरी एक तमन्ना थी कभी किनारा ना आए


कितना मुश्किल है मनाना उस शख्स को
जो रूठा भी ना हो और बात भी ना करे

sher shayari urdu love


आज टूटेगा गुरूर चाँद का भी बस तुम देखना
आज मेने उनसे छत पर आने को कहा है


जो मैं रूठ जाऊँ तो तुम मना लेना
कुछ न कहना बस सीने से लगा लेना


कितना प्यार है इस दिल में तेरे लिए
अगर बयां कर दिया तो तू नहीं ये दुनिया मेरी दिवानी हो जायेगी


शिकवा करने गये थे और इबादत सी हो गई,
तुझे भुलाने की ज़िद थी, मगर तेरी आदत सी हो गई


ले रहा था मोहब्बत के बाज़ार से इश्क की चादर,
लोगों के हुजूम से आवाज आई साहिब आगे से कफ़न भी लेना


तुम्हारी इतनी दिलकश आँखे होने का यह मतलब तो नहीं
की जिसे देखो उसे बर्बाद कर दो


जब वो अपने हांथो की लकीरों में मेरा नाम ढूंढ कर थक गयीं,
सर झुकाकर बोलीं, लकीरें झूठ बोलती है तुम सिर्फ मेरे हो


मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं;
चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए


सारी उम्र आँखों में एक सपना याद रहा,
सदियाँ बीत गयी पर वो लम्हा याद रहा,
न जाने क्या बात थी उन मे और हम मे,
सारी महफिल भूल गए बस वही एक चेहरा याद रहा


सुना है सब कुछ मिल जाता है दुआ से
मिलते हो खुद या माँगु तुम्हें खुदा से


ख्वाइश बस इतनी सी है की तुम मेरे लफ़्ज़ों को समझो
आरज़ू ये नही की लोग वाह वाह करें


कुछ तो होते है मुहब्बत में जुनूं के आसार
और कुछ आप जैसे भी दीवाना बना देते है


अगर होता है इत्तेफाक तो कुछ यूँ हो
कि तुम रास्ता भूलो और मुझ तक चले आओ


माना की बहूत कीमती है वक्त तुम्हारा,
मगर हम भी नायाब है बार-बार नही मिलेगे



दोस्तों ये पोस्ट Love Sher Shayari in Hindi - Sher O Shayari Love आप को यी पोस्ट पसंद आये तो आप के फ्रेंड एंड फॅमिली के साथ शेयर करे एंड हमें कमेंट करके जनाए ये पोस्ट कैसे लगे होर आगे आप केश टॉपिक पर पोस्ट जानते है हमें कमेंट करे के बताये धन्यवाद

हर दिन नए लव स्टेटस सिर्फ dailylovestatus.com अभी Bookmark कीजिये और पाए ढेरों नए शायरी और लव स्टेटस हर दिन बिलकुल फ्री...



Tag:-

sher o shayari love, sher shayari hindi love, love sher o shayari, love sher shayari, love sher o shayari in hindi, sher shayari love, sher o shayari on love, urdu sher o shayari love, sher aur shayari love, sher shayari urdu love

Post a Comment

2 Comments

  1. great article Read your Post it is amazing. I Like To This Post. Thank You for Sharing This Amazing and help full content.

    ReplyDelete